Chuhe ki kahani | चूहे और किसान की नयी कहानी | Hindi kahani

Chuhe ki kahani | Hindi kahani

Chuhe ki kahani, चूहे और किसान की नयी कहानी, hindi kahani, चूहा किसान के घर चला गया था जब किसान ने देखा की चूहा उसके घर में आ गया है तो वह कहने लगा कि तुम्हे यहां पर नहीं आना चाहिए because यहां पर तुम्हे कुछ भी नहीं मिलेगा, मेरे पास तो खाने को भी नहीं है तुम्हे खाना नहीं मिल सकता है तभी किसने chuhe को देखता है तो उसका रंग काला और सफ़ेद है देखने में वह चूहा बहुत अच्छा लग रहा था वह chuha किसान के पास आता है किसान कहता है की यहां तुम्हे कुछ भी नहीं मिलेगा, मेरे पास अधिक खेती भी नहीं है जिससे में जीवन में आगे भोजन की व्यवस्था कर पाऊ,

Chuhe ki kahani : चूहे और किसान की कहानी

Chuhe ki kahani

Chuhe ki kahani

किसान उस chuhe से कहता है की मेरे दादा जी के पास बहुत धन था वह कहते थे की हमे कभी किसी चीज की जरूत  महसूस नहीं होगी, but अब पता नहीं वह धन कहा चला गया है हमने बहुत खोजा था but कुछ नहीं मिला है कुछ देर बाद वह chuha भी चला जाता है किसान अपने खेत के पास जाता है देखता है की यह खेत भी मुझे कुछ नहीं दे पा रहा है कितनी भी खेती कर लू, but कुछ होने वाला नहीं है मुझे परेशानी होगी, तब भी में यहां से नहीं जा सकता हु,

मोटू पतलू की नयी कहानी

किसान अपने खेत में सब्जिया उगाया करता था but उससे कुछ भी नहीं होता था किसान बहुत मुसीबत में था रात हो गयी थी किसान सो गया था तभी किसान को कुछ आवाज आती है यह आवाज किसकी है किसान देखता है की यह आवाज बाहर से आ रही है बाहर जो उसकी खेती थी उसमे वह देखता है तो chuha शायद आवाज कर रहा था but यह चूहा रात में क्या कर रहा है किसने देखता है की यह चूहा किस जगह पर है but chuha नज़र नहीं आता है

जादुई घड़े की नयी कहानी

तभी किसान देखता है की एक रौशनी निकल रही है यह किसी रौशनी है वह देखता है की यह कही से आ रही है जबकि किसान ने ऐसा पहले कुछ नहीं देखा था वही से chuha भी बाहर आता है और किसान उस जगह को देखता है वही पर बहुत सारा सपना रखा हुआ है किसान को यकीन नहीं होता है because किसान को कभी यह सोना नहीं मिला था यह उसके दादा जी ने छुपाया होगा जब हमे जरूरत होगी तो वह सोना मिल जाएगा but कभी भी जगह के बारे में नहीं बताया था

Chuhe ki kahani | Hindi kahani

आज किसने को वह सोना मिल गया था जोकि chuhe ने खोज निकाला था चूहे ने ही उस सोने को खोजा था यह चूहा तो मेरे लिए सोने का पता देने आया था वह किसान chuhe को कहता है की अब तुम यहां पर रुक सकते हो क्योकि तुमने ही मेरी मुसीबत दूर की थी अगर तुम यह जगह नहीं देखते तो मुझे कभी भी पता नहीं चलता है की यह अपर सोना है उस दिन के बाद वह किसान और चूहा साथ में रहने लगते है अगर आपको यह चूहे और किसान की नयी कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे       

Read More kids story :-

परियों की एक अनोखी कहानी

परी और जादूगर नयी कहानी

बंदर की जादुई कहानियां

प्रिंसेस की कहानी 

बंदर और भेड़िये की कहानी

दो चिड़िया और गिलहरी की कहानी

बीरबल की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *