Bhoot wali kahani and bhoot pret ki kahani hindi, भूत वाली कहानी

Bhoot wali kahani and bhoot pret ki kahani hindi

वह भूत वाली कहानी, Bhoot wali kahani and bhoot pret ki kahani hindi जब से मेने उसे बताई है तब से वह बहुत परेशान लग रहा है मगर ऐसा नहीं होना चाहिए था, वह क्या सोच रहा है जबकि यह सिर्फ एक kahani है, इसमें कुछ भी ऐसा नहीं है जोकि तुम्हे सोचना पड़े तुम्हे तो उस कहानी को भूल जाना चाहिए, but तुम तो भूल नहीं रहे हो, ऐसा कब तक चलेगा, अब में चलता हु मुझे भी बहुत देर हो रही है but उसने मना कर दिया था

Bhoot wali kahani and bhoot pret ki kahani hindi

Bhoot wali kahani

Bhoot wali kahani

वह कहने लगा की जब से तुमने मुझे वह भूत वाली कहानी सुनाई है, तब से मुझे ऐसा लगता है की वह हर जगह पर होते है but हमे नज़र नहीं आते है, इसलिए मुझे डर लग रहा है आज की रात तुम्हे यही पर रुकना चाहिए, मुझे ऐसा लगता है की जब में यहां पर अकेला हो जाता हु तो वह bhoot आ सकता है, पता नहीं ऐसा क्या हो गया था वह बहुत डर गया था, इसलिए शायद वह रुकने को कह रहा था, आज की रात उसके पास रुक जाना चाहिए

 

रात हो गयी थी, उन्हें कुछ आवाज आ रही थी, यह किसकी आवाज थी but बाहर तो बहुत तेज हवा चल रही है किसी की भी बिजली नहीं आ रही है because यह तूफ़ान चल रहा है बिजली का जाना स्वाभविक है, but आज तो उसे बहुत डर लग रहा था because रात में अन्धेरा भी हो गया था कुछ समय बाद ही बारिश भी आ गयी थी यह मौसम आज बहुत ही खराब लग रहा है यह भी अच्छा हुआ की में गया नहीं था because बाहर का मौसम ठीक नहीं है

 

उसके बाद वह आवाज क्यों आयी है, because हवा चल रही है तो इसमें सोचने से कुछ नहीं होगा, तुम्हे bhoot के बारे में सोचना नहीं है, because कोई भी bhoot नहीं है, तुम्हे डरने की जरूरत नहीं है, तुम यहां पर अकेलने नहीं हो, यह बात ठीक थी उसे डरना नहीं चाहिए था, because दोनों एक ही जगह पर थे, बिजली चमकी थी उसमे एक परछाई नज़र आती है वह देखकर डर जाता है वह कहता है की भूत है, उस जगह पर भूत है, उसे डर लगता है जबकि वह कोई परछाई थी, 

 

वह खिड़की के नीचे देखता है, नीचे देखने पर उसे जो दिखाई देता है वह कोई bhoot से कम नहीं है, कोई नीचे खड़ा है मगर साफ़ नज़र नहीं आ रहा है वह लगातार बारिश की बूंदो से भीग रहा है दोनों उसे ही देखते है but जब वह ऊपर देखता है तो वह देखने लगता है शायद वह अब ऊपर आने वाला है, दोनों डर जाते है because वह नहीं जानते है की वह कौन है वह bhoot हो सकता है कुछ भी समझ नहीं आता है वह फिर देखते है but अब कुछ नहीं है

 

वह चला गया है या ऊपर आ गया है कुछ पता है चल रहा है, कुछ देर बाद दरवाजे पर दस्तक होती है दोनों बहुत डर जाते है वह bhoot आ गया है अब उनके पास कुछ भी ऐसा नहीं था की वह उससे बच पाए but क्या कर सकते है वह bhoot है उससे दूर ही रहना पड़ेगा, वह दरवाजा नहीं खोलते है कुछ समय बाद ही आवाज बंद हो जाती है अब कोई आवाज नहीं है खिड़की की और जाकर देखते है मगर कोई नहीं था, वह दरवाजा भी खोलते है bhoot कोई भूत नज़र नहीं आता है

Bhoot wali kahani and bhoot pret ki kahani hindi

वह bhoot कहा चल गया है उन्हें नहीं पता है, bhoot वह इस बात को जानते है की वह भूत ही था, because वह गायब हो गया है वह किस जगह से आया था तभी उसका दोस्त कहता है की वह उस कहानी से आया है जो तुमने मुझे सुनाई थी वह भूत वाली कहानी मुझे अब नहीं सुननी है because सिर्फ एक kahani से बहुत अधिक डर गए है, उसके बाद कोई भी भूत की बात नहीं करता है वह नहीं समझ पाए थे की क्या होगा, but कुछ तो होगा ही, जो उन्हें आज तक पता नहीं चल पाया है    

Read More ghost stories :-

भूत की कहानी लालच का सोना

पुल के पास की चुड़ैल भूत की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *